स्मार्टफोन में कौन से सेंसर होते है?

क्या आप नया स्मार्टफोन खरीदने का सोच रहे हो? नया स्मार्टफोन खरीदते वक्त आप कौन सी चीजें देखते हो? रैम, कैमरा, बैटरी बैकअप, डिस्प्ले, मेमोरी, ऑपरेटिंग सिस्टम, प्रोसेसर यह कुछ कॉमन फीचर्स है जो हम नया स्मार्टफोन लेते समय देखते है. क्या आपको पता है, आप के फ़ोन में अलग अलग प्रकार के सेंसर होते है. बहुत सारे लोगों को इन सेंसर के बारे में पता नहीं होता है. आप को फ़ोन में इस्तेमाल होने वाले सेंसर के बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी है, क्योंकि आप के स्मार्टफोन का कार्यक्षमता, स्मूथ वर्किंग इन सेंसर पर निर्भर होती है.

सेंसर क्या होता है?

यह एक ऐसा उपकरण होता है जिसका काम पर्यावरण में होने वाले बदलाव का पता करना और उसकी जानकारी इकट्ठा करना होता है. यह एक इनपुट डिवाइस होते है, जो पहले जानकारी को इकट्ठा करते है और डिवाइस के कंट्रोल सिस्टम को भेजते है.

स्मार्टफोन को सेंसर की जरूरत क्यों होती है?

जैसा की मैंने बताया, सेंसर एक उपकरण होते है जो पर्यावरण में होने वाले बदलाव जैसे तापमान, दबाव, प्रकाश, गति, दिशा के बारे में जानकारी इकट्ठा करते है और फ़ोन की कार्यक्षमता इन चीजों पर निर्भर करती है. जब हम ज्यादा देर तक फ़ोन इस्तेमाल करते है या फिर गेम्स खेलते हैं तब हमारा फ़ोन गरम हो जाता है, फ़ोन को ओवरहीटिंग से बचाने के लिए हमारे फ़ोन में थर्मामीटर सेंसर होता है. यह सेंसर फ़ोन का तापमान नापता है और फ़ोन के कण्ट्रोल सिस्टम को भेजता है. हमारे फ़ोन में लाइट सेंसर भी होता है, जो आस-पास के प्रकाश की तीव्रता का पता लगाकर फ़ोन के स्क्रीन के ब्राइटनेस को एडजस्ट करता है. सिक्योरिटी के लिए फिंगरप्रिंट सेंसर होते है. हमारी स्मार्टफोन की सुरक्षा के लिए, नुकसान से बचने के लिए, अच्छे कार्यक्षमता के लिए अलग अलग सेंसर की जरुरत होती है.

हमारे स्मार्टफोन में कौन से सेंसर होते है वो विस्तार से देखते है.

सेंसर की सूची

  1. एक्सेलेरोमीटर
  2. जाइरोस्कोप सेंसर
  3. मैग्नेटोमीटर / कंपास सेंसर
  4. प्रोक्सिमिटी सेंसर
  5. लाइट सेंसर
  6. बैरोमीटर
  7. थर्मामीटर
  8. एयर ह्यूमिडिटी सेंसर
  9. पैडोमीटर
  10. फिंगरप्रिंट सेंसर
  11. रेडिएशन सेंसर
  12. हार्ट रेट मॉनिटर सेंसर
  13. आइरिस स्कैनर
एक्सेलेरोमीटर

यह सेंसर सभी फ़ोन में होता है. यह बहुत ही महत्वपूर्ण सेंसर है. यह हमारे फ़ोन की मूवमेंट की स्पीड को नापता है. जब हम फ़ोन को horizontal या vertical दिशा में घुमाते है तब यह सेंसर हमारे फ़ोन की स्क्रीन को भी उसी दिशा में घूमता है. यह सेंसर गेम्स खेलते वक्त बहुत काम आता है.

जाइरोस्कोप सेंसर

जब आप को VR, 360 degree video / photo और 3D photo देखना है तभी यह सेंसर बहुत काम आता है. जाइरोस्कोप की मदद से हमारा फ़ोन X, Y और Z Axis का पता करता है और उसी अनुसार फ़ोन की स्क्रीन को घुमाता है और फ़ोन की horizontal और vertical ओरिएंटेशन को सटीकता से पता करता है.

मैग्नेटोमीटर / कंपास सेंसर

दिशा का पता लगाने के लिए यह सेंसर बहुत काम आता है. जीपीएस और मैप को इस्तेमाल करते वक्त यह सेंसर बहुत काम आता है.

प्रोक्सिमिटी सेंसर

यह सेंसर फ्रंट कैमरा और इयरपीस के नजदीक होता है. जब हम फ़ोन पर बात करते है तब ये काम में आता है. जब हम फ़ोन पर बात करने के लिए फ़ोन को कान के नजदीक लाते हो तब फ़ोन की स्क्रीन ऑफ हो जाती है, ये प्रोक्सिमिटी सेंसर के कारन होता है. ये सेंसर फ़ोन पर बातें करते समय स्क्रीन को ऑफ करके बैटरी को बचाता है और स्क्रीन पर होने वाले एक्सीडेंटल टच से बचाता है.

लाइट सेंसर

ये सेंसर आसपास के प्रकाश की तीव्रता को मापता है और स्क्रीन के ब्राइटनेस को एडजस्ट करने का काम करता है. जब हम दिन में फ़ोन लेकर घर से बाहर इस्तेमाल करते है तो धूप के कारण प्रकाश की तीव्रता ज्यादा होती है, तब ये सेंसर स्क्रीन के ब्राइटनेस को बढ़ता है और जब हम फ़ोन को घर में या फिर प्रकाश की तीव्रता कम है वहा इस्तेमाल करते है, तब ये सेंसर ब्राइटनेस को कम करता है. बैटरी को बचाना और स्क्रीन की विजिबिलिटी को बढ़ाना ये इस सेंसर का मुख्य उद्देश्य है. ये सेंसर ब्राइटनेस को एडजस्ट करके हमारे आँखों को बचाता है.

बैरोमीटर

समुद्र स्तर से आप कितनी ऊंचाई पर हो ये मापने का काम बैरोमीटर सेंसर करता है. बैरोमीटर सेंसर जानकारी इकट्ठा करके जीपीएस को भेजता है, और ये जानकारी एक्यूरेट लोकेशन को पता करने में काम आती है. fitness tracking apps में भी बैरोमीटर सेंसर का उपयोग होता है. कुछ महंगे स्मार्टफोन में वायुमंडलीय दबाव मापने के लिए बैरोमीटर सेंसर होता है.

थर्मामीटर

ज्यादा देर तक फ़ोन इस्तेमार करने पर या फिर ज्यादा देर तक गेम खेलने से फ़ोन गरम हो जाता है. ज्यादा गर्मी के कारण फ़ोन के पार्ट्स ख़राब हो सकते है, फ़ोन ब्लास्ट भी हो सक्ता है. थर्मामीटर सेंसर फ़ोन के इंटरनल पार्ट्स का और बैटरी का तापमान मापकर कण्ट्रोल सिस्टम को भेजता है और ओवरहीटिंग से बचाता है. जब तापमान बहुत ज्यादा होता है, तब फ़ोन स्विच ऑफ हो जाता है.

एयर ह्यूमिडिटी सेंसर

ये सेंसर वातावरण में होने वाली नमी (Humidity) को मापता है. बहुत ही कम स्मार्टफोन में ये सेंसर होता है.

पैडोमीटर

इस सेंसर के मदद से आप कितने कदम चलकर गए ये गिना जाता है. कुछ fitness tracker apps इस सेंसर की मदद से आप कितनी दूरी चलकर गए ये बताता है. ये सेंसर दूरी मापने का काम भी करता है. पैडोमीटर, एक्सेलेरोमीटर का सुधारित वर्शन है, कुछ फ़ोन में पैडोमीटर नहीं होता तब एक्सेलेरोमीटर और fitness tracker apps की मदद से कदम गिने जाते है. जब आप चलते हो या दौड़ते हो तभी पैडोमीटर बहुत काम आता है.

फिंगरप्रिंट सेंसर

आज के ज़माने में यह सेंसर सबसे महत्वपूर्ण है. आपके फ़ोन के सिक्योरिटी के लिए ये बहुत काम आता है. ये सेंसर फ़ोन के आगे, पीछे या फिर साइड में होता है, महंगे फ़ोन में ये सेंसर डिस्प्ले के अंदर (In Display) होता है. इस सेंसर की मदद से आप अपना फ़ोन, ऐप्स, फोटो, वीडियो, फाइल्स को लॉक और अनलॉक कर सकते हो, और अपना पर्सनल डाटा सुरक्षित कर सकते हो. कुछ पेमेंट एप्स सुरक्षित लेनदेन के लिए फिंगरप्रिंट सेंसर का इस्तेमाल करती है.

रेडिएशन सेंसर

यह सेंसर रेडिएशन स्तर को मापता है. जापान में रेडिएशन बहुत है, इसलिए वहां के ज्यादातर फ़ोन में रेडिएशन सेंसर होता है.

हार्ट रेट मॉनिटर सेंसर

यह सेंसर आपकी हार्ट बीट रेट नाप सकता है. एलईडी / फ्लैशलाइट और ऑप्टिकल सेंसर की मदद से यह सेंसर काम करता है. यह सेंसर एलईडी फ्लैशलाइट के बाजू में, फ़ोन के पीछे होता है. बहुत सारी fitness tracking apps इस सेंसर की मदद से आप को हार्ट बीट रेट बताती है.

आइरिस स्कैनर

यह सेंसर आँखों की दृष्टिपटल को स्कैन करता है, उसी की मदद से फ़ोन को लॉक और अनलॉक करता है.