WiFi Calling क्या है? यह कैसे काम करता है?

दोस्तों मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल हम कॉल और एसएमएस करने के लिए करते है. कॉल और एसएमएस जैसी सुविधा का इस्तेमाल करने की लिए हमें मोबाइल में सिम कार्ड का होना जरुरी होता है. सिम कार्ड की मदद से नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनी एयरटेल, जिओ, वि, बीएसएनएल हमें नेटवर्क प्रदान करती है.

फ़ोन कॉल कैसे काम करते है?

जब हम किसी व्यक्ति को कॉल लगाते है तभी नेटवर्क सिग्नल की मदद से कॉल नजदीकी टावर तक पहुंच जाता है. नजदीकी टावर से कॉल आगे मोबाइल स्विचिंग सेंटर में जाता है. मोबाइल स्विचिंग सेंटर में जिस व्यक्ति को कॉल लगाया है उसके मोबाइल के लोकेशन को ढूंढा जाता है, और उसके नजदीकी टावर की मदद से उसको कॉल प्राप्त होता है.

चलो अब विस्तार से देखते है की फ़ोन कॉल नेटवर्क सिग्नल की मदद से कैसे काम करते है?

हमारे फ़ोन में माइक्रोफोन होता है, जब भी हम कॉल पर बातें करते है तभी माइक्रोफोन के मदद से हमारी आवाज डिजिटल सिग्नल में रूपांतरित होती है. आगे डिजिटल सिग्नल मोबाइल फ़ोन के ऐन्टेना में जाता है. ऐन्टेना इस डिजिटल सिग्नल को इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंगों की मदद से नजदीकी टावर तक भेजता है. टावर की मदद से ये सिग्नल मोबाइल स्विचिंग सेंटर में आते है.
यहाँ से जिस व्यक्ति को कॉल लगाया है, उसके नजदीकी टावर तक ये डिजिटल सिग्नल आते है. टावर फिर से इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंगों की मदद से डिजिटल सिग्नल को उस व्यक्ति के मोबाइल के ऐन्टेना तक पहुंचाता है. ऐन्टेना तक पहुँचने के बाद डिजिटल सिग्नल का रूपांतरण आवाज में होता है और स्पीकर की मदद से आपकी आवाज उस व्यक्ति तक पहुंच जाती है.

WiFi Calling की जरूरत क्यों है?

अच्छे और बेहतर कॉल के लिए टावर से आने वाले नेटवर्क सिग्नल को स्ट्रांग होना जरुरी होता है. क्या होगा जब नेटवर्क सिग्नल कमजोर हो, कमजोर सिग्नल की वजह से कॉल के दौरान बहुत सारी परेशानियां आ सकती है, जैसे की कॉल का कट होना, आवाज कम आना, आवाज रुक रुक कर आना और आवाज़ न आना ये समस्याएं आ सकती है.

बेहतर कॉल के लिए और कमजोर सिग्नल की वजह से आने वाली समस्या को दूर करने के लिए WiFi Calling का आविष्कार हुआ. भारत में सबसे पहले WiFi Calling सर्विस को एयरटेल कंपनी ने दिसंबर 2019 में प्रारंभ किया. इसके बाद जिओ कंपनी ने जनवरी 2021 में WiFi Calling की सर्विस को प्रारंभ किया.WiFi Calling को VoWiFi भी कहते है, VoWiFi का मतलब है वॉइस ओवर WiFi यानी WiFi के मदद से वॉइस कॉलिंग करना.

WiFi Calling क्या है?

WiFi Calling का मतलब है WiFi के इंटरनेट के मदद से कॉल का आना जाना. WiFi Calling के लिए आपका मोबाइल WiFi से कनेक्ट होना जरूरी है. WiFi Calling टेक्नोलॉजी VoIP टेक्नोलॉजी का आधार लेकर चलती है. VoIP का फुल फॉर्म, वॉइस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल है, मतलब इंटरनेट के माध्यम से वॉइस कॉलिंग. हम कभी कभी व्हाट्सप्प कॉलिंग, फेसबुक मैसेंजर कॉलिंग, स्नैपचैट कॉलिंग, स्काइप कॉलिंग का उपयोग कॉलिंग के लिए करते है. इन ऐप्प का कॉलिंग VoIP टेक्नोलॉजी के मदद से होता है, मतलब इंटरनेट के सहायता से होता है. WiFi Calling इन कॉलिंग एप्स की तरह काम करता है.

कई बार हम जिस इलाके के रहते है, वहां घर में या बिल्डिंग के अंदर नेटवर्क कमजोर होता है. कमजोर नेटवर्क की वजह से कॉल के दौरान दिक्कत आ सकती है. यदि आपके घर में, ऑफिस, होटल में WiFi कनेक्शन है या फिर किसी भी wifi के रेंज में है और आपके मोबाइल का नेटवर्क कमजोर है तो आप मोबाइल फ़ोन को मौजूदा WiFi को कनेक्ट करके WiFi Calling इस्तेमाल कर सकते है.

इस सुविधा को इस्तेमाल करने के लिए कुछ चीजों का होना जरूरी है.
  1. आपके मोबाइल में WiFi Calling विकल्प होना चाहिए.
  2. आपके नेटवर्क प्रोवाइडर को WiFi Calling की सुविधा प्रदान करनी चाहिए.
  3. आपका मोबाइल WiFi को कनेक्ट होना जरूरी है.
  4. वैसे तो WiFi Calling टेक्नोलॉजी सभी ऑपरेटर फ्री में देते है, लेकिन कॉलिंग के लिए एक्टिव talktime प्लान का होना जरूरी है. अगर आपके पास अनलिमिटेड प्लान है तो चिंता की जरूरत नहीं है, लेकिन आपके पास लिमिटेड टॉप अप talktime है तो ऑपरेटर के हिसाब से पैसे कटेंगे.
WiFi Calling कैसे काम करता है?

ये VoIP टेक्नोलॉजी के मदद से चलता है. लेकिन WiFi Calling का काम करने का तरीका VoIP से थोड़ा अलग है. VoIP टेक्नोलॉजी में दो व्यक्ति में कॉलिंग डायरेक्ट इंटरनेट की माध्यम से होती है, बीच में कोई भी मोबाइल स्विचिंग सेंटर नहीं होता.

WiFi Calling के मामले में कॉलिंग WiFi के इंटरनेट के माध्यम से होती है और ऑपरेटर के सर्वर तक जाती है और आगे मोबाइल स्विचिंग सेंटर में जाती है. सामान्य कॉल में आवाज टॉवर की माध्यम से मोबाइल स्विचिंग सेंटर तक जाती है, मगर WiFi Calling में आवाज टावर से नहीं जाती बल्कि WiFi इंटरनेट की माध्यम से डायरेक्ट मोबाइल स्विचिंग सेंटर में जाती है.

इस तरह कमजोर नेटवर्क में भी WiFi इंटरनेट से क्वालिटी कॉल कर सकते हो.

WiFi Calling को कैसे ऑन करें?

वैसे तो नए आधुनिक स्मार्टफोन में WiFi Calling की सुविधा पहले से ही ऑन होती है, अगर बंद है तो आप आगे दिए हुई प्रक्रिया का उपयोग करके ऑन कर सकते हो.

एंड्राइड फ़ोन-
  1. एंड्राइड फ़ोन में आपको Settings में जाना है.
  2. Settings में Calls / Mobile Network पर tap करना है.
  3. Calls / Mobile Network में आपको Wi-Fi Calling को सेलेक्ट करके ऑन करना है.

Settings > Calls / Mobile Network > Wi-Fi Calling

इस प्रकार आप अपने एंड्राइड में WiFi Calling को ऑन कर सकते हो.

महत्वपूर्ण- एंड्राइड फ़ोन को बनाने वाली बहुत सारि कंपनी है. अलग अलग कंपनी के एंड्राइड फ़ोन में Wi-Fi Calling सुविधा को चालू करने की प्रक्रिया थोड़ी अलग हो सकती है. यदि आपको Wi-Fi Calling का ऑप्शन ढूंढने में परेशानी हो रही है, तो आप Settings में जाकर वहाँ Search Box में WiFi Calling लिखकर सर्च करना है. आपको WiFi Calling का ऑप्शन मिल जायेगा.

आईफोन-
  1. आईफोन में आपको Settings में जाना है.
  2. settings में Phone पर tap करना है.
  3. Phone में आपको Wi-Fi Calling को सेलेक्ट करना है.
  4. Wi-Fi Calling में आप को Wi-Fi Calling On This iPhone ऑप्शन को ऑन करना है.

Settings > Phone > Wi-Fi Calling

इस प्रकार आप अपने iphone में wifi calling को ऑन कर सकते हो.

जब आप Wi-Fi Calling की सुविधा को चालू करते हो तब आप Wi-Fi के द्वारा सामान्य कॉल जैसे कॉल कर सकते हो.
जब आप का फ़ोन इंटरनेट से कनेक्ट हो जायेगा तो Notification Bar में आपको Internet Call या Wi-Fi Calling देखने को मिलेगा.
और, जब आप का फ़ोन Wi-Fi से कनेक्ट नहीं है तो, कॉल मोबाइल नेटवर्क प्रोवाइडर द्वारा होंगे.

WiFi Calling के फायदे कौनसे है?
  • यदि आपके मोबाइल में WiFi Calling की सुविधा है तो आपको इस सुविधा के इस्तेमाल करने के लिए बाहरी ऐप इंस्टॉल करने की जरुरत नहीं है.
  • इस सुविधा का उपयोग करने के लिए आपको अलग प्लान लेने की जरूरत नहीं है या ज्यादा पैसे देने की जरूरत नहीं है. यदि आपके पास अनलिमिटेड कॉलिंग का प्लान एक्टिव है तो चिंता की कोई जरूरत नहीं है, लेकिन आपके पास अनलिमिटेड वाला प्लान नहीं है तो नेटवर्क प्रदान करने वाली कंपनी के हिसाब से पैसे कट होंगे.
  • जिस जगह पर नेटवर्क सिग्नल कमजोर है, वहाँ इस सुविधा का उपयोग करके आप बेहतर गुणवत्ता के साथ कॉल्स कर सकते हो.
  • स्मार्टफोन की बैटरी की बचत होती है. हमारा मोबाइल फ़ोन हमेशा नेटवर्क को ढूंढता रहता है और इस प्रक्रिया में बैटरी की खपत ज्यादा होती है और बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है.
WiFi Calling के नुकसान कौनसे है?
  • अगर आप घर, स्कूल या ऑफिस से बाहर हो और WiFi Hotspot की सुविधा नहीं है तो आप WiFi Calling का इस्तेमाल नहीं कर सकते.
  • भीड़वाली जगह जैसे होटल, स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट पर बहुत ज्यादा लोग एक ही WiFi Hotspot का इस्तेमाल करते है इसी वजह से WiFi की स्पीड बहुत कम होती है. कम स्पीड के कारण WiFi Calling के दौरान दिक्कत आ सकती है और वॉइस कॉल की गुणवत्ता भी ख़राब हो सकती है.